हरियाणा

हरियाणा सरकार का नया नियम, अब परिवार से अलग Family Id बनाना पड़ सकता है महंगा, जानें पूरी बात

Haryana Family Id News : हरियाणा सरकार ने Family Id को लेकर एक नया नियम बनाया है। अब जिनकी परिवार से अलग Family Id है उसको भविष्य में मुश्किल आ सकती है। क्योकि आपको बता दें की परिवार पहचान पत्र (PPP) बनवाने के लिए आपको नया बिजली कनेक्शन खरीदना होगा। आपको अपने घर का पता बनाते समय नए बिजली मीटर कनेक्शन का नंबर बताना होगा। नए बिजली कनेक्शन नंबर के बिना आपकी फैमिली आईडी अलग से नहीं बन सकेगी.

साढ़े तीन लाख परिवारों को मिले पहचान पत्र

भिवानी जिले में साढ़े तीन लाख परिवारों को पहचान पत्र मिल चुके हैं, इसलिए एसडीएम की करेक्शन रिपोर्ट लाना अनिवार्य है। मतदाताओं का डेटा सीधे उनकी फैमिली आईडी से जुड़ा हुआ है, क्योंकि फैमिली आईडी मैपिंग का काम चल रहा है। यदि आपकी फैमिली आईडी में एक से अधिक बिजली बिल का भुगतान दर्शाया गया है तो एसडीएम की सुधार रिपोर्ट लानी होगी। जिन बच्चों के माता-पिता नहीं हैं या जिनकी मां ने पिता की मृत्यु के बाद दूसरी शादी कर ली है, उन्हें जाति प्रमाण पत्र नहीं मिलेगा।

तीन बच्चों की माँ ने अपने पति की मृत्यु के बाद दूसरी शादी कर ली। एक मामला भिवानी से सामने आया. इसलिए बच्चों को जाति प्रमाण पत्र नहीं मिल सका। जाति प्रमाण पत्र बनवाते समय माता-पिता की आय का विवरण लिखा जाता है। आय विवरण न होने पर जाति प्रमाण पत्र बनाना मुश्किल होता है।

दक्षिण हरियाणा बिजली विभाग के भिवानी सर्कल के महाप्रबंधक रणवीर सिंह ने कहा कि बिजली निगम एक घर में एक से अधिक बिजली बिल कनेक्शन नहीं देगा। विभिन्न विद्युत कनेक्शन लेने के लिए घर को भी अलग करना चाहिए।

बढ़ते बिजली बिल से बढ़ी आय को कैसे कम करें? प्रारंभ में, परिवार से अलग पारिवारिक आईडी बनाने के लिए नए मीटर कनेक्शन की आवश्यकता नहीं होती थी, लेकिन अब ऐसा होता है। साथ ही फैमिली आईडी में बिजली बिल से लेकर परिवार के सदस्यों की आय में उतार-चढ़ाव आ रहा है। अगर आपकी फैमिली आईडी में बिजली बिल ज्यादा आने से आपकी आय बढ़ गई है और आप इसे कम करना चाहते हैं तो आपको बस निगम के एसडीएम से कनेक्शन रिपोर्ट पोर्टल पर ऑनलाइन रिपोर्ट करानी होगी।

Back to top button